उत्तर प्रदेश में क्यो जलायीं गयी दैनिक जागरण की प्रतियां ?

0
26

उत्तर प्रदेश में जगह-जगह दैनिक जागरण अखबार की प्रतियां जलाई जा रही हैं। लोग नाराजगी जाहिर करते हुए कह रहे हैं कि ये अखबार इरादतन दलित-पिछड़े समाज से आने वाले नेताओं के खिलाफ दुष्प्रचार करता रहता है।

इस बार मामला अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी से जुड़ा हुआ है, इसलिए अखबार का बहिष्कार करने वाले और उसकी प्रतियां जलाने वाले अधिकतर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता हैं।

दरअसल दैनिक जागरण ने सस्ती शराब से जुड़ी एक खबर में कुतर्की ढंग से अखिलेश यादव की फोटो लगा दी, जिसके बाद इसे तमाम आलोचनाओं का सामना करना पड़ा।

अखबार की इस धूर्तता से नाराजगी जताते हुए समाजवादी पार्टी द्वारा ट्वीट में लिखा गया-
दैनिक जागरण अखबार के गोरखपुर संस्करण में राष्ट्रीय अध्यक्ष समाजवादी पार्टी एवं पूर्व मुख्यमंत्री माननीय सांसद श्री अखिलेश यादव जी की तस्वीर गलत तरीके से छापने पर माफी मांगे समूह। दोषी पर हो कार्रवाई। नहीं तो होगी वैधानिक कार्रवाई एवं बहिष्कार। घोर निंदनीय!

इसके साथ ही प्रदेशभर के अलग-अलग हिस्सों में तमाम समाजवादी कार्यकर्ताओं ने दैनिक जागरण की प्रतियां जलाते हुए बहिष्कार की मांग की

सपा नेत्री निधि यादव ने लिखा

ये खबर जानबूझकर लोगों को भ्रमित करने की नीयत से छापी गई है , जिस भी पत्रकार ने ये खबर छापी है उसपर कठोर कार्यवाही हो , शर्म आनी चाहिए @JagranNews वालों को पूर्व मुख्यमंत्री की फ़ोटो फ़र्ज़ी तरीक़े से कहीं भी छापने के लिए , तत्काल माफ़ी माँगे , गलती सुधारें और स्पष्टीकरण दें !#boycott_dainikjagran</p

क्योंकि दैनिक जागरण अखबार इससे पहले भी तरह-तरह के झूठ और दुष्प्रचार फैलाता रहा है इसलिए पुराने रिकॉर्ड को देखते हुए इसे सिर्फ मानवीय भूल नहीं माना जा रहा है।

यह भी पढ़े…..योगी राज, CM बड़ा फैसला, अन्य राज्यो से श्रमिकों को वापस लाने की तैयारी ।

Live Corona map

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here