सही साबित हुआ ट्रम्प का शक है? चीन ने कोरोना से मौत के आंकड़ों में की हेरा-फेरी तो WHO किया समर्थन |

0
76

कोरोना वायरस के मृतकों की संख्या में चीन द्वारा इजाफा किए जाने के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी डब्ल्यूएचओ की प्रतिक्रिया आई है। डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण को नियंत्रित करने के बाद कई देश चीन की तरह अपनी मृतक संख्या को संशोधित कर सकते हैं। डब्ल्यूएचओ ने शु्क्रवार को कहा कि वुहान में संक्रमण बहुत तेजी से फैला और अधिकारियों के लिए हर मौत और संक्रमण के मामले को दर्ज करना मुश्किल हो गया।  वुहान में प्राधिकारियों ने शुरुआत में इस संक्रमण पर पर्दा डालने की कोशिश की थी। इस संक्रमण को लेकर ऑनलाइन सचेत करने वाले चिकित्सकों को सजा दी गई थी और संक्रमण के मामले दर्ज करने को लेकर सरकार पर सवाल उठते रहे हैं क्योंकि उसने गणना के अपने मापदंडों को बार-बार बदला है।

कई देशों को करना होगा आंकड़ों में संशोधन
कोविड-19 संबंधी तकनीकी मामलों के लिए डब्ल्यूएचओ का नेतृत्व कर रहीं मारिया वान केरखोव ने कहा, ‘संक्रमण जारी रहने के दौरान हर मामले और हर मौत को पहचानना चुनौतीपूर्ण होता है।’ उन्होंने यहां एक वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘मेरा अनुमान है कि कई देशों में ऐसी ही स्थिति पैदा होगी, जब उन्हें पीछे मुड़कर अपने रिकॉर्ड की समीक्षा करनी होगी और देखना होगा, क्या हमने सभी मामलों को पहचाना?’

चीन के संशोधन पर WHO की सफाई
उन्होंने कहा कि वुहान में स्वास्थ्य सेवा प्रणाली पर काम का बहुत दबाव था, कुछ मरीजों की घर में ही मौत हो गई और अन्य लोग अस्थायी केंद्रों में थे। चिकित्साकर्मियों का ध्यान मरीजों के उपचार पर था, इसलिए उन्होंने समय पर कागजी काम नहीं किया। डब्ल्यूएचओ में आपात मामलों के निदेशक माइकल रेयान ने कहा, ‘सभी देश ऐसी स्थिति का सामना करेंगे।’ लेकिन उन्होंने देशों से जल्द से जल्द सटीक आंकड़े मुहैया कराने की अपील की|

आलोचना के बाद आंकड़ों में संशोधन
दरअसल, कोविड-19 मामलों के आंकड़े छिपाने को लेकर हो रही अंतरराष्ट्रीय आलोचना के बीच चीन ने मृतकों की संख्या में शुक्रवार को संशोधन किया। चीन ने कोरोना वायरस के उत्पत्ति केंद्र वुहान शहर में मृतकों की संख्या में 1,290 का इजाफा किया, जिससे चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 4,632 हो गई।

वुहान में अब कुल कोरोना मामले
वुहान में 16 अप्रैल तक कोरोना वायरस के पुष्ट किए गए कुल मामलों में 325 की वृद्धि की गई जो बढ़कर 50,333 हो गए और मृतकों की संख्या में 1,290 की वृद्धि की गई। इस तरह कोरोना वायरस से मौतों की पुष्टि के बाद मृतक संख्या 3,869 हो गई। संशोधित आंकड़े के मुताबिक चीन में कोविड-19 से हुई मौतों की कुल संख्या बढ़कर 4,632 हो गई है। कुल मामलों की संख्या भी बढ़कर 82,692 हो गई।

ट्रंप डब्लूएचओ को चीन का हिमायती मानते हैं
दरअसल, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) पर कोरोनो वायरस संकट को लेकर चीन का पक्ष लेने का लगातार आरोप लगाते आ रहे हैं। ट्रंप वैश्विक स्वास्थ्य एजेंसी डब्लूएचओ के इस रवैये को लेकर कई लोग नाराज हैं, यही वजह है कि उन्होंने बीते दिनों इसकी फंडिंग रोक दी। अमेरिका डब्ल्यूएचओ को सालाना चार से पांच हजार डॉलर की वित्तीय सहायता प्रदान करता है।
ट्रंप ने फंड रोकने के बाद कहा था, ‘क्या डब्ल्यूएचओ ने चीन में वास्तविक स्थिति का आकलन करने के लिए चिकित्सा विशेषज्ञों को उपलब्ध कराने और चीन की पारदर्शिता की कमी को दूर करने के लिए अपना काम किया था? इसका प्रकोप बहुत कम होता और निश्चित रूप से मौतें कम होतीं। हजारों लोगों की मौत और वैश्विक अर्थव्यस्था को होने वाली क्षति को टाला जा सकता था।’

Live Corona map

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here